Hindi sex stories

Hindi sex stories, chudia kahani

मेरी बहनकी कच्ची चूत

Hindi sex stories हाय फ्रेंड्स माय नेम इस सोनू और में पुणे से हु. में आज आपको अपनी एकदम पहली सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हु. जो मेरे और मेरी सगी बहन अंकिता के बिच में हुई थी. मेरे घर में में, मेरी मम्मी, मेरे पापा, मेरी बड़ी बहन अंकिता और मेरी एक छोटी बहन रहते हे. मेरी माँ हॉउस वाइफ हे और मेरे पापा गवर्नमेंट बेंक में जॉब करते हे. में फेमिली में ज्यादा फ्रेंडली नहीं रहता हु.में पहले से ही एकदम शर्मीला लड़का हु, मेरी हाईट ५ फुट ८ इंच हे, मेरा वजन ५१ किलो हे, मैने मेरे लंड का साइज़ कभी नापा नहीं हे पर मेरा लंड हर किसी को सेटीसफाय कर सकता हे यह में गेरंटी के साथ कह सकता हु.अगर आप लोगो को मेरी यह कहानी पसंद आये तो आप लोग मुझे मेल कर सकते हो, पुणे में कोई भी आंटी, लड़की अगर मुज से चुदना चाहती हे तो प्लीज़ मुझे मेल करे, में प्रायवसी का पूरा पूरा ख्याल रखूंगा. अब आप लोगो का ज्यादा समय न लेते हुए में सीधा आज की स्टोरी पर आता हु.

में बी.इ. में लास्ट इयर का स्टूडेंट हु और पुणे में एक हॉस्टल में रहता हु. हॉस्टल से सरे लड़के रम छोडके चले गये तो में अकेला ही रह गया था, तो मुझे कोई भी पार्टनर ना मिलने के कारण मैने भी हॉस्टल छोड़ दिया और गाँव चला गया.

गाव में ४-५ दिन रहने के बाद में वापस पुणे में आ गया था. मेरी सगी बहन अंकिता भी पुणे में ही जॉब करती हे एक प्रायवेट कंपनी में, उसकी उम्र २५ हे और वह अनमेरिड हे और मेरी उमर २४ साल की हे. तो मेरे घर वालो ने हमे एक ही रम में रहने को बोल दिया.

हम ने एक वन रम किचन का घर देख लिया, टॉयलेट बाथरूम अटेच्ड था, मेरे बहन की फिगर ३२-२८-३० है और एकदम गोरा रंग हे, जब चलती हे तो उसकी गांड इधर उधर हिलती हे जिसे देख के किसी का भी लंड खड़ा हो जाये.

रम में रहने लगे तो हम लोग एक दुसरे के बहोत क्लोज रहने लगे, और हम लोग काफी सारी बाते शेयर करते थे, सोने के वक्त वह टी शर्ट और नाईट पेंट पहन कर सोती थी, हम लोग निचे ही सोते थे और हमारा अलग अलग बिस्तर था. मुझे तो पहले से ही मेरी बहन को चोदने का मन था, जब वह नहाने चली जाती तब में उसके ब्रा और पेंटी को सूंघता था और मुठ भी मार लेता था.

एक दिन रात के २ बजे में पानी पिने के लिए उठ गया और तब मेरी बहन गहरी नींद में थी. मुझे तो नींद नही आ रही थी उसका टी शर्ट ऊपर उसके पेट तक आया हुआ था और उसका पेट पूरा दिखाई दे रहा था, में देखकर हेरान हो गया, में धीरे से जाकर उसके पास में सो गया और वह पूरी नींद में थी.

मैने हिम्मत कर के उसके बूब्स के ऊपर एक हाथ डाल दिया और धीरे धीरे बूब्स को दबाने लगा, वह सोयी हुई थी तो मेरा होसला और बढ़ गया मैने धीरे से एक हाथ उसकी पेंटी में डाल दिया और उसकी चूत को सहलाने लगा.

मैने इस से पहले कभी किसी लड़की को चोदा नहीं था तो मुझे बहोत मजा आ रहा था, मेरा लंड एकदम टाईट हो गया था, मैने लंड को बहन के गांड पे रखा और धीरे धीरे से रगड़ने लगा.

अचानक बहन की नींद खुल गई, में बहोत घबरा गया, वह उठी और मुज पर चिल्लाने लगी, अपनी बहन के साथै ऐसे कर रहा हे? शर्म नहीं आती? और मुझे बहोत सारी बाते सुनाने लगी और घरवालो को बताने की धमकी देने लगी, मेरी हालत बहोत ख़राब हो गयी थी.

थोड़ी देर में मैने सोच लिया की ऐसे भी बहन को पता चल गया हे और अब रुकने का क्या फायदा? में बहन के पास गया और उसको मनाने लगा पर वह नहीं मान रही थी, मैने उसकी कमर को पकड लिया और उसके ओठो पर किस करने लगा.

वह मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी पर कामयाब नहीं हुयी. में ५ मिनिट तक उसे किस करता रहा, उसका प्रतिकार कम हुआ और वह ठंडी पड़ गई, मैने उसका टी शर्ट निकाल दिया और अब वह वाईट स्लिप में थी, और स्लिप के अंदर ब्लेक कलर की ब्रा थी.

वह एकदम माल लग रही थी, मैने मेरी नाईट पेंट उतार दी और उसको सिर्फ ब्रा और पेंटी में देखता रहा, वह भी मेरा साथ देने लगी, उसकी चूत पर घने बाल थे, उसकी चूत ब्लेक कलर की थी और अभी तक एकदम वर्जिन थी, मैने चूत में हाथ डाल दिया तो वह अहः हह्ह्ह्ह अह्ह्ह अम्म्म आह्ह्ह मम्मम उऔऊ येस्स्स्स अहह्ह्ह येस्स्स्स औऔऔउ करने लगी मुझे भी बहोत मजा आने लगा था.

हम दोनों एकदम नंगे हो गये थे में उसकी चूत को सहला रहा था और बूब्स को चूस रहा था, उसके बूब्स एकदम कडक हो गये थे और चूत अंदर से गीली हो गयी थी, बहन भी बड़े जोश में मेरा साथ देने लगी थी, मैने लंड निकाल कर उसके हाथ में दे दिया.

वह आगे पीछे करने लगी और फिर उसने लंड मुह में ले लिया पर पहली बार कर रही थी तो उसको वह पसंद नहीं आया और उसने मुह से लंड को बहार निकाल दिया. मैने लंड को हाथ में लेकर चूत के पास सेट किया और जोर से ज़टका दिया, आधा लंड अन्दर किया और वह आह्ह्ह बस करो बोलने लगी.

मैने एक और ज़टका दिया तो लंड पूरा अंदर चला गया और वह चिल्ला रही थी, वह सिलपेक होने के कारण खून निकलने लगा और वह घबरा गई, मैने उसे समजाया, हम पूरी रात भर चुदाई कर रहे थे और मैने ३ शॉट मारे, सुबह ६ बजे उठने के बाद और एक शॉट हो गया, हमने कंडोम के बिना किया था तो उसको एक i पिल लाकर दे दी.

दुसरे दिन बहन एकदम थक चुकी थी और उसने मुझे हाथ भी लगाने नही दिया. उसकी चूत में दर्द हो रहा था, उसके अगले दिन उसे पीरियड आ गये, और हमने पीरियड में भी चुदाई के मजे ले लिए.

अब हम लोग रूम पे जाकर नंगे ही रहते हे और खूब मस्ती भी करते हे, रात को साथ में ही सोते हे और सेक्स का पूरा पूरा मजा लेते हे, घर में ही सेक्स मिल जाने की वजह से हम काफी खुश थे.

hindi sex stories

अब हम लोग रूम में रोज पति पत्नी की तरह चुदाई का मजा लेते थे.

जब हम घर पर जाते हे और जब घर पर कोई नही होता तो हम वहा भी चुदाई करते हे, मेरे ज़ट के बाल वह साफ करती हे और में उसके चूत के बाल साफ करता हु.

में उकसे ब्रा और पेंटी खुद शोपिंग कर के ले आता हु, चार महीने बाद मेरी पढाई पूरी होने पर हम घर जाने वाले हे, एक दुसरे की शादी होने के बाद भी हम ने चुदाई करने का प्लान किया हे.

कहानी पढने के बाद अपने विचार आप निचे कमेन्ट बोक्स में जरुर लिखे, और आपके लिए कहानियो का दोर उही चलता रहे.

दोस्तों यह मेरी पहली स्टोरी हे जो सच में हुई एक सच्ची घटना हे, अगर कोई गलती हुई हो तो माफ़ कर देना और इस कहानी में यदि आपको कुछ जूठ लगता हे तो आप मेल पर मुझे कोंटेक्ट कर सकते हे में आपको ट्रिक्स बता सकता हु यदि आपको अपनी बहन को या किसी लड़की को चुदवाना हे तो आप मुझे कभी भी मेल कीजिये और में आपकी सेवा के लिए हमेशा हाजिर हु.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme