Hindi sex stories

Hindi sex stories, chudia kahani

डॉक्टरने क्लिनिक में चुदवा लिया

Hindi sex stories हाय दोस्तों यह मेरी एकदम पहली चुदाई की स्टोरी हे और ये एकदम मेरी जींदगी की सच्ची कहानी हे. मेरा नाम इरा गुलाटी हे और में एक डॉक्टर हु. मैने डेंटिस्ट बनने के लिए जी तोड़ मेहनत की और इसके बिच मैने कभी किसी को आने नही दिया. में सिर्फ और सिर्फ मेरी पढाई पर ध्यान लगाती रही और आज में एक डेंटिस्ट हु. आज में मेरा एक अपना क्लिनिक चलाती हु जो मेरे घर से थोड़ी दुरी पर हे. मेरी उमर २७ साल हे और मेरी हाईट ५.१० इंच हे और में चरहरे बदन की लड़की हु. मेरे बूब्स गोल और एकदम टाईट हे और उनका साइज़ ३६ हे और मेरी कमर ३२ और मेरी गांड ३८ की हे और मेरी गांड बहोत ही मुलायम हे.मेरे चुतड बहोत ही बड़े हे. मेरा रंग एकदम दूध की तरह सफेद हे और लोग मुजे सोनाक्षी सिन्हा कहते हे.

एक दिन सन्डे के दिन मेरा क्लिनिक ऑफ़ था तो मैने सोचा के आज कोई साफ सफाई की जाए तो में मेरी कार ले कर और ब्लेक कलर के टॉप और शोर्ट पहन कर निकल गई. में ऐसी दिख रही थी के मनो काले लिबास में हिरा. में क्लिनिक पहुंची तो सोचा की कोई नोकर बुला लिया जाये हेल्प के लिए. तो में रस्ते पे निकल कर देखने लगी जहा पर बहोत मजदुर मिलते हे.

में वहा पर पहुंची तो मुजे बहोत सरे मजदूरो ने घेर लिया और सब बोलने लगे के मेडम मुजे ले चलो और फिर मैने एक १८ साल के एक लड़के को हायर कर लिया. वो बहोत काला था और उसकी हाईट ६ फिट थी. मैने उसको ३ घंटे के काम के लिए ३०० रूपये दूंगी ये बोल के उसको कार में बिठा लिया.

हम लोग क्लिनिक पे पहुँच गये और में समान को हटाने लगी और वो मेरे पीछे खड़ा था और मेरी हेल्प कर रहा था. वो मेरे बड़े बड़े गोर बूब्स और मेरी मोटी गांड को बहोत घुर घुर कर देख रहा था. मैने गोर से देखा तो उसके निकर में उसका लंड खड़ा हो गया था और टेंट बन गया था, पर मैने उस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया. फिर में कुछ लेने के लिए निचे जुकी तो मेरी बड़ी गांड उसके सामने खुल गई तो उसने धीरे से आगे आ कर अपना लंड मेरे मोटे चूतडो के बिच में मेरी गांड की गहराई में घुसा दिया और में जोर से चिल्ला उठी आयामाम्म्म्मम्य्य्य.

वो बहोत डर गया और बोला सोरी मेडमजी. ये गलती से टच हो गया था तो मैने कहा की इट्स ओके. फिर में काम करने लगी तो उसने दो तिन बार मेरी गांड को टच किया पर मैने कुछ भी रिएक्ट नही किया. तो उसकी हिम्मत और बढ़ गई.

वो मेरे पास आ कर खड़ा हो गया और उसका लंड मेरी गांड पे टच हो रहा था. दोस्तों ये मेरा किसी मर्द के लंड के साथ पहला अनुभव था और उस काले पतले लड़के का लंड बहोत सख्त था उस के लंड की गरमी मुझे मेरे कपडे के ऊपर से भी महसूस हो रही थी. मैने खुद को और भी पीछे गया तो उसका लंड मेरी गांड में घुस गया और में ऐसे ही अंजान बन के काम करती रही, वो समज गया था की मुझे भी मजा आ रहा हे. उसने धीरे धीरे अपनी कमर को हिलाना शुरू कर दिया और उसका लंड मेरे अंदर जा रहा था और में अब गरम होने लगी थी. मैने आज तक ऐसा कुछ भी फिल नही किया था और अब मेरे अंदर की ओरत जाग गई थी.

मैने उसको पूछा की तेरा नाम क्या हे तो उसने कहा की राजू तो मैने कहा की रहू तेरा ये चूहा बहोत परेशान कर रहा हे देख वो मेरे बिल में घुसा जा रहा हे तो वो बोला की मेडम ये चूहा नही हे काला नाग हे जो आपके बिल में घुसना चाहता हे. फिर मैने कहा की दिखा तो तेरे नाग को तो उसने जट से अपना निकर उतार दिया. बाप रे मेरी तो जेसे आँखे ही फट गई थी और मेरा गला भी सुख गया उस १८ साल के बच्चे का ९ इंच मोटा और ४ इंच चौड़ा लंड उछल कर बहार आ गया और निचे लटकने लगा. वो नाग की तरह फुंकार मार रहा था.

में तो डर गई के में इतना बड़ा केसे लुंगी. वो मेरी तरफ मुस्कुरा के बोला के क्या हुआ मेडम जी, तो मैने कहा की राजू तेरा लंड इतना तगड़ा कैसे हे. तो वो बोला की पता नहीं मेडम जी. तो उसने मेरे मुलायम हाथ को उसके सख्त लंड पे रख दिया और में उसका लंड आगे पीछे करने लगी.

तो वो मुज पर टूट पड़ा और मुझे पागलो की तरह किस करने लगा. वो मेरे गुलाबी होठो को चूस रहा था और काट रहा था और में सिसकिया ले रही थी आह्ह अहः अहह राजू आह्ह अमम्म अहः मम्म ओह्ह्ह धीरे प्लीज. उसने जट से मेरे सरे कपडे उतार दिये और वो खुद भी नंगा हो गया. फिर वो मेरी गर्दन, बेक पर चूमने लगा. वो मुजे देख के बोला मेम जि आप बहोत खूबसूरत हो और गोरी हो किसी हिरोइन की तरह.

तो मैने कहा की राजू तू तो मर्द बन गये अभी से इतना लंबा और तगड़ा लंड तो किसी बड़े मर्द का भी नही होता. वो बोला मेडम जी मुजे क्या पता मैने तो कभी भी सेक्स नही किया तो में बोली के में भी वर्जिन हु राजा आज तू ही मेरी सिल तोड़ेगा. में आपने घुटनों पर बेठ गई और उसका तगड़ा लंड चूसने लगी लेकिन में उसका एकदम थोडा सा लंड मेरे मुह में ले पा रही थी क्योंकि वह बहोत ही मोटा था. तो उसने मेरे बाल पकड के एक जोर का ज़टका दिया तो उसका आधा लंड मेरे मुह में चला गया और मेरे आँख में से आंसू निकल आये और मुजे खासी भी आने लगी और वो बिना रुके मेरे मुह को पागलो की तरह चोदने लगा था. पाच मिनिट के बाद उसने गर्म गर्म पानी मेरे मुह में छोड़ दिया जो मुझे निगलना पड़ा, और उसके बाद वो शांत हो गया.

अब वो बोला मेरी जान अब मेरी बरी हे, और उसने बोला इरा डार्लिंग तुम अपनी टेबल पर लेट जाओ तो में भी लेट गई और उसके सामने मेरा गोरा भरा हुआ बदन था. वो सब से पहले मेरे बूब्स को बहोत जोर जोर से मसलने लगा वो मेरे बूब्स को ऐसे निचोड़ रहा था की जैसे वो निम्बू हो और मेरे गोर बूब्स अब लाल हो गये थे. मुझे दर्द हो रहा था फिर वो उनको चूसने लगा तो में जेसे की जन्नत में पहुच गई थी. कोई एकदम पहली बार मेरे बूब्स को चूस रहा था. में सिसकिय लेते हुए बोली के आह्ह्ह राजू कम ओन बेबी अहहह हाहाह ओह्ह्ह अहः ओह्ह्ह उम्म्म्म मम्मी अहह्ह्ह अम्मम्म.

फिर वो मेरी गोरी मोटी जांघो को चूमने और मसलने लगा और फिर वो धीरे धीरे मेरी फूली और गुलाबी चूत पर आया. जैसे ही उसने जीभ लगाई में तो चहक उठी उईईईई माआआअ आऔच. वो बोला की इरा तेरी चूत तो मख्खन की तरह हे और में बोली के तेरा लंड भी तो लोहे की गरम रोड की तरह हे. वो मेरी चूत को पागलो की तरह चाट रहा था में थोड़ी देर में जड गई और उसने मेरी कुवारी चूत का रस पि लिया. अब उसने आपने लंड पे थूक लगा के मेरी चूत पर रखा और मैने उसे कहा की प्लीज़ राजू आराम से डालना आज पहली बार मेरी सिल टूटने वाली हे.

उसने बोला की ठीक हे. तो मैने उस पर भरोसा कर लिया और अपना शरीर ढीला छोड़ दिया. उसने मेरी कमर को कस के पकड लिया और कुत्ते ने बहोत जोर से ज़टका मारा और उसका आधा लंड मेरी गीली चूत में चीरते हुए घुस गया.

अब में तो जेसे दर्द की वजह से मरी जा रही थी मेरे आंसू निकलने लगे और जोर से चीख पड़ी आह्ह्ह आह्ह अमम्म्म ममीईईईईइ मर गई और उसने देखा की मुझे दर्द हो रहा हे तो उसने जोश में आके एक और ज़टका मारा और उसका ९ इंच लंबा लंड मेरे अंदर घुस गया में रोने लगी और उसको बोला प्लीज़ राजू मुझे जाने दो मुझे बहोत दर्द हो रहा हे.

वो गुस्से से बोला चुप कर साली क्या माल हे तू, मुझे तेरे जेसा माल ७ जन्म तक नहीं मिलेगा तो आज में तुजे कैसे जाने दू, आज तो तेरी चूत को ढंग से खोल के ही जाने दूंगा. और उसने अपनी स्पीड तेज कर दी और मेरे ऊपर चढ़ गया और वो बहोत तेज तेज ज़टके मारने लगा और मेरे तो आंसू आ रहे थे और में चिल्ला रही थी अहः अह्ह्ह अम्मं आयी अमम्म अह्ह्ह उम्म्म्म मम्मीईइ धीरे राजू प्लीज़ राजू धीरे लेकिन वो मेरी एक भी बात को नही सुन रहा था, मेंरे पुरे क्लिनिक में मेरी चीखे गूंज रही थी.

और वो मेरे चूतडो पे जोर जोर से थप्पड़ मरते हुए मुझे जानवर की तरह चोद रहा था. करीब २० मिनिट चोदने के बाद उसकी स्पीड बहोत तेज हो गयी और वो जड गया और उसने अपना पानी मेरी चूत में ही छोड़ दिया. और वो मेरे ऊपर आ के लेट गया, हम ऐसे ही पड़े रहे. वो बोला इरा मेडम तू बहोत ही मस्त हे.

फिर उसने अपना लंड मेरी चूत में से निकाला तो उस पर मेरी चूत का खून लगा हुआ था और मेरी चूत खून से सन गई थी वो बोला अब तेरी सिल टूट गई हे और तू अब चुदने के लिए रेडी हो गयी हे.

फिर उसने मुझे किस करना शुरू कर दिया और वो उठ गया उसने आपने कपडे पहने और बोला मेडम अब मुझे कभी भी काम हो तो मुझे बुला लेना, में आपका काम एकदम फ्री में कर दूंगा और वो हसता हुआ चला गया. में थोड़ी देर बाद बड़ी मुश्किल से खड़ी हो पाई और कपडे पहने और कार से घर पर आ गयी. दो दिनों तक मुझसे ठीक से चला भी नही जा रहा था, उसके बाद में उसके बच्चे की माँ बनने वाली थी और में प्रेग्नंट हो गई तो मैने अबोर्शन करवा लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme